कोरोना काल में घरों में दुबके रहे कांग्रेसी, अब बन रहे हिमायती: महाराज

पौड़ी: कांग्रेस ने पिछले 70 सालों में देश के विकास को अवरुद्ध करने के साथ-साथ हमेशा उत्तराखंड की उपेक्षा की। लेकिन जब से केन्द्र और राज्य में भाजपा की सरकार बनी है तब से देश के साथ साथ उत्तराखंड लगातार विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है। जहां तक अन्य दलों की बात है तो वह बरसाती मेंढक के सिवा कुछ नहीं हैं, चुनाव समाप्त होते ही वह भी गायब हो जाएंगे।

उक्त बात भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता, आध्यात्मिक गुरु, और चौबट्टाखाल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के प्रत्याशी कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने गुरुवार भारी बारिश के बावजूद क्षेत्र में मतदाताओं बीच जनसंपर्क करते हुए कही। वीरोंखाल मण्डल के सुन्दरखाल, भरपूर, कसाणी, सैंधार, नेग्याणा, चोरखिण्डा, लोदली, भाखण्ड, कदोल, वेदीखाल और स्यूंसी में ताबड़तोड़ जनसम्पर्क कर लोगों को अपने द्वारा क्षेत्र में किये गये कार्यों से अवगत करवाया।

महाराज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश लगातार आगे बढ़ रहा है जबकि कांग्रेस ने पिछले 70 सालों के अपने शासन के दौरान देश को विश्व में नीचा दिखाने के अलावा हमेशा उत्तराखंड की उपेक्षा की। भाजपा उत्तराखंड का समग्र विकास कर इसे संस्कार भूमि बनाना चाहती है। लेकिन कांग्रेस शराब व्यवसायियों को अपना प्रत्याशी बनाकर प्रदेश की युवा पीढ़ी को बर्बाद करना चाहती है।

चौबट्टाखाल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी सतपाल महाराज ने कहा कि कांग्रेस भाजपा सरकार के विकास कार्यों को झुठला कर अपना उल्लू सीधा करना चाहती है। मतदाता इस बात को अच्छी तरह जानते हैं कि मेरे कार्यकाल में क्षेत्र में कितने विकास कार्य हुए हैं। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा चौबट्टाखाल को पर्यटन हब बनाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। “सतपुली” और स्यूंसी झील की स्वीकृति उसका प्रत्यक्ष प्रमाण है।

महाराज ने कहा कि उनके द्वारा पेयजल की समस्या से निजात दिलाने के लिए अरबों रुपए की पंपिंग योजनाएं स्वीकृत हुई हैं। जबकि अनेक जगहों पर पर्यटक आवासगृहों का निर्माण कार्य किया जा रहा है। कोरोना काल के दौरान जहां सभी विपक्षी पार्टियां के प्रतिनिधि अपने अपने घरों में दुबके बैठे थे वही हम लोग बराबर जनता के सुख दुख में सहभागी रहे हर संभव मदद करने का प्रयास हमारे परिवार द्वारा किया जाता रहा।

सतपाल महाराज की पत्नी और पूर्व मंत्री श्रीमती अमृता रावत ने भी आज एकेश्वर मण्डल के भ्रमण के दौरान मलेठी, बौसाल तल्ला, बौसाल मल्ला, कुमाडी, पीपली, खुलेऊ, गिवाली, उखलेत, चौमासूधार और चौमासूगाड़ आदि क्षेत्रों में जनसम्पर्क किया। वहीं दूसरी ओर सतपाल महाराज के जेष्ठ पुत्र श्रद्धेय रावत ने अनेक गावों में जनसम्पर्क कर अपने पिता के लिए वोट मांगे। जबकि छोटे पुत्र सुयश रावत ने पांग, उकाल, तिमलखाल, गडिगांव, चरगाड़, जबरौली, पिनानी, और सिवाल में
डोर-टू-डोर जनसम्पर्क किया।

Share and Enjoy !

0Shares
0

Leave a Reply

Your email address will not be published.

0Shares
0