चतुर्थ केदार भगवान रुद्रनाथ मंदिर में तोड़फोड़, चोरी का भी संदेह जताया

गोपेश्वर: चतुर्थ केदार रुद्रनाथ मंदिर और धर्मशाला में तोड़ फोड़ की गयी है। धर्मशालाओं के दरवाजे भी टूटे मिले हैं। इस तोड़फोड़ के कारण चोरी की आशंका जताई जा रही है। आपको बता दें की शीतकाल के दौरान इन दिनों रुद्रनाथ मंदिर के कपाट बंद है। वही घटना की सूचना मिलते ही प्रशासन और मंदिर समिति की टीम मौके के लिए रवाना हो चुकी है।

रुद्रनाथ के पुजारी हरीश भट्ट ने बताया है कि शीतकाल के दौरान चतुर्थ केदार भगवान रुद्रनाथ के कपाट बंद रहते हैं। गोपेश्वर से लगभग 24 किलोमीटर की दूरी पर मंदिर स्थित है। कपाट बंद रहने के दौरान यहां पर लोगों की आवाजाही नहीं होती है, लेकिन कपाट खुलने की तैयारी को लेकर गश्ती दल रुद्रनाथ गया था। इस दौरान पता चला कि मंदिर के मुख्य द्वार तथा धर्मशाला के दरवाजों को तोड़ा गया है। ऐसे में उन्होंने वन विभाग और पुलिस प्रशासन से शिकायत की है। शीतकाल में इस क्षेत्र में लोगों का आना जाना बंद है तो फिर इस तरह की घटना कैसे हुई।

उन्‍होंने भगवान रुद्रनाथ मंदिर में चोरी का भी संदेह जताया है। वन प्रभाग का जांच दल मौके पर है यह एक जांच का विषय भी है कि मंदिरों के साथ इस तरह के घटनाक्रम धार्मिक आस्थाओं को चोट पहुंचाते हैं साथ ही निंदनीय है लोगों ने प्रशासन से जल्द से जल्द कठोर कार्रवाई करने की उम्मीद है।

Share and Enjoy !

0Shares
0

Leave a Reply

Your email address will not be published.

0Shares
0